Home उत्तर प्रदेश सुप्रीम कोर्ट के आने वाले फैसले को लेकर भगवान श्री राम की...

सुप्रीम कोर्ट के आने वाले फैसले को लेकर भगवान श्री राम की ससुराल में भी हाई अलर्ट

17
High alert in Supreme court for the upcoming judgment of Lord Shri Ram

अयोध्या विवाद पर सुप्रीम कोर्ट के आने वाले फैसले के कारण ना सिर्फ देश में हाई अलर्ट है, बल्कि पड़ोसी देश नेपाल (Nepal) ने भी अपने 13 जिलों में हाई अलर्ट (High Alert) घोषित कर दिया है. गोरखपुर. अयोध्या विवाद (Ayodhya Dispute) को लेकर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) से आने वाले फैसले के कारण ना सिर्फ पूरे देश में हाई अलर्ट है, बल्कि सभी मजहब के लोगों से शांति और धैर्य रखने की अपील की जा रही है. जबकि नेपाल (Nepal) ने एक बार फिर अपने अच्छे पड़ोसी होने का फर्ज निभाया है. पड़ोसी देश ने भी अपने 13 जिलों में हाई अलर्ट घोषित कर दिया है, जिसमें जनकपुर, रुपंदेही और कृष्णानगर को अतिसंवेदनशील माना गया है.

नेपाल में है भगवान राम की ससुराल

नेपाल के जनकपुर में भगवान राम की ससुराल है और नेपाल में लाखों राम भक्त रहते हैं, तभी तो भारत के साथ नेपाल का रोटी और बेटी का संबंध है. ये संबंध और मजबूत हों, इसके लिए कोई भी आवांछित तत्व गड़बड़ी न फैला पाए इसके लिए नेपाल पुलिस भी सक्रिय हो गयी है.

भारत और नेपाल के अधिकारियों में हुई बातचीत

भारत और नेपाल की खुली सीमा होने की वजह से देश विरोधी गतिविधियों में शामिल लोगों की आवाजाही होने की आशंका बनी रहती है. इसको देखते हुए भारतीय प्रशासनिक अधिकारियों ने भी नेपाली अधिकारियों के साथ बैठक कर साझा रणनीति तैयार की है. जबकि अयोध्या में आने वाले फैसले के दिन पूरे नेपाल सीमा पर चौकसी और कड़ी कर दी जाएगी. महराजगंज और सिद्धार्थनगर में बॉर्डर पर पुलिस के अधिकारी और नेपाल पुलिस के अधिकारी बात कर आपसी तालमेल को और बेहतर बना रहे हैं. अयोध्या और जनकपुर में एक तरह से समानता भी है. अयोध्या जहां भगवान राम का जन्मस्थान है तो वहीं जनकपुर माता सीता का जन्म स्थान. इस कारण जितनी सुरक्षा अयोध्या को चाहिए,उतनी ही सुरक्षा जनकपुर को भी. लिहाजा भारत के साथ-साथ नेपाल के सुरक्षाबल भी तैयार हैं, ताकि किसी भी हालत में आवंछित तत्व अपने इरादे में सफल ना हो सकें.