Home घरेलू उपाय हार्ट अटैक से बचने के कुछ आसान उपाय

हार्ट अटैक से बचने के कुछ आसान उपाय

52
Some-easy-ways-to-avoid-heart-attack-in-Hindi

जब हृदय तक रक्त का प्रवाह अवरुद्ध होता है तब दिल का दौरा पड़ता है। हार्ट ब्लॉकेज की सबसे बड़ी वजह बार-बार वसा, कोलेस्ट्रॉल और अन्य पदार्थों का निर्माण होना है, जो हृदय (कोरोनरी धमनियों) को रक्त और पोषण देने वाली धमनियों में एक पट्टिका का निर्माण करते हैं। इन आर्टरीज को बार बार नुकसान पहुँचने से पट्टिका अंततः टूट जाती है और हार्ट में एक थक्का बनाती है। बाधित रक्त प्रवाह हृदय की मांसपेशी के हिस्से को नुकसान पहुंचाती है या नष्ट कर देती है। जिसकी वजह से व्यक्ति को हार्ट अटैक आता है, परन्तु अगर पहले से इसके कुछ बचाव नियम अपनाये जाये तो हार्ट अटैक जैसी गंभीर बीमारी से बचा जा सकता है। अपनी नियमित जीवनशैली और खानपान में कुछ परिवर्तन करके आप इस घातक और खतरनाक बीमारी से बच सकते है। इसलिए आज के आर्टिकल में हम आपको हार्ट अटैक से बचने के कुछ आसान से उपाय बता रहे है जिससे आप इस बीमारी के जोखिम को कम कर सकते है।

जिस तरह हर बीमारी के पहले से कोई न कोई संकेत मिलते है उसी तरह दिल का दौरा पड़ने से पहले भी हमारा शरीर हमें कोई न कोई संकेत देता है अगर हम उसे पहचान के उसके जोखिम को कम करने के उपाय ढूंढ लेते है तो हम इस खतरनाक रोग से बच सकते है परन्तु अगर हमने अपनी दिनचर्या को हमेशा की तरह अनियमित ही रखा तो हार्ट अटैक के जोखिम से बचना बहुत मुश्किल होता है। इसलिए समय रहते अगर हम अपनी दिनचर्या, जीवनशैली और खानपान को ठीक कर लेंगे तो हार्ट अटैक से आसानी से बचा जा सकता है, इसलिए आईये जानते है दिल के दौरे से बचने के कुछ तरीकों के बारे में-

हार्ट अटैक से बचने का उपाय धुम्रपान ना करें

This image has an empty alt attribute; its file name is Heart-attack-se-bachne-ka-upay-quit-smoking-in-Hindi.jpgधूम्रपान या किसी भी प्रकार के तंबाकू का उपयोग करना हृदय रोग के विकास के लिए सबसे महत्वपूर्ण जोखिम कारकों में से एक माना जाता है। तंबाकू में मौजूद रसायन आपके दिल और रक्त वाहिकाओं (blood vessels) को नुकसान पहुंचा सकते हैं, जिससे प्लाक बिल्डअप (एथेरोस्क्लेरोसिस) के कारण धमनियां नैरो हो जाती है। एथेरोस्क्लेरोसिस की वजह से अंततः दिल का दौरा पड़ सकता है। इसलिए हार्ट अटैक से बचने के लिए किसी भी प्रकार का धूम्रपान या तम्बाकू का सेवन करने से बचें।

दिल के दौरे से बचने के लिए रोज 30 मिनट एक्सरसाइज करें

ऐसा माना जाता है की कुछ नियमित, दैनिक व्यायाम करने से आपके हृदय रोग का खतरा कम हो सकता है। और जब आप अपनी अन्य जीवनशैली उपायों के साथ एक्सरसाइज को जोड़ते हैं, जैसे कि स्वस्थ वजन बनाए रखना, तो उससे दिल के दौरे का खतरा कम किया जा सकता है। शारीरिक गतिविधि करने से आपके वजन को नियंत्रित करने और अन्य स्थितियों को विकसित करने की आपकी संभावनाओं को कम करने में मदद मिल सकती है जो आपके हृदय पर दबाव डालती हैं, जैसे हाई बीपी, उच्च कोलेस्ट्रॉल और डायबिटीज। सामान्य तौर पर, आपको सप्ताह के अधिकांश दिनों में लगभग 30 मिनट मॉडरेट एक्सरसाइज करना चाहिए, जैसे तेज गति से चलना (Brisk walking) आदि।

हृदय रोग से बचने का तरीका है स्वस्थ आहार

This image has an empty alt attribute; its file name is Heart-attack-se-bachne-ka-tarika-hai-heart-healthy-diet-in-hindi.jpgएक स्वस्थ आहार का सेवन करने से आपके हृदय रोग के खतरे की संभावना को कम किया जा सकता है। ह्रदय-स्वस्थ भोजन (heart healthy diet) योजनाओं में दो तरह की डाइट शामिल हैं डायटरी अप्रोचिस टू स्टॉप हाइपरटेंशन (Dietary Approaches to Stop Hypertension) (DASH) ईटिंग प्लान और मेडिटेरेनियन डाइट (Mediterranean diet)। इस प्रकार की डाइट में आप फलों, सब्जियों और साबुत अनाज से भरपूर आहार ले सकते है जो आपके दिल की रक्षा करने में मदद कर सकते हैं। बीन्स, कम वसा वाले या वसा रहित डेयरी उत्पाद, लीन मीट और मछली को स्वस्थ आहार के हिस्से के रूप में खाने से आप हार्ट अटैक की संभावना को कम कर सकते है। परन्तु इस बात का ध्यान आपको जरुर रखना है की अपने आहार में बहुत अधिक नमक और शक्कर लेने से बचें।

हार्ट अटैक रोकने का उपाय है स्वस्थ वजन

अगर आपका बहुत अधिक वजन है तो आपके लिए हृदय रोग का खतरा बढ़ सकता है। अत्यधिक वजन उन स्थितियों को जन्म दे सकता है जो आपके लिए हृदय रोग की संभावना को बढ़ाते हैं जैसे उच्च रक्तचाप, उच्च कोलेस्ट्रॉल और डायबिटीज। मेटाबोलिक सिंड्रोम एक ऐसी स्थिति है जिसमें आपके पेट के चारों ओर वसा इक्कठा हो जाता है जिसकी वजह से आपको उच्च रक्तचाप, उच्च रक्त शर्करा और उच्च ट्राइग्लिसराइड्स की शिकायत हो सकती है जिससे हृदय रोग के जोखिम को भी बढ़ावा मिलता है।
यदि आप यह जानना चाहते है की आपका स्वस्थ वजन है या नहीं तो इसकी गणना आप अपने बॉडी मास इंडेक्स (बीएमआई) के द्वारा कर सकते है, जो आपकी ऊँचाई और वजन के हिसाब से यह निर्धारित करता है की आपके शरीर में वसा का स्वस्थ या अस्वास्थ्यकर प्रतिशत है या नहीं। बीएमआई का पता करके आप भी एक स्वस्थ वजन पा सकते है जिससे आप हार्ट अटैक के जोखिम को कम कर सकते है।

हृदय रोग को कम करने का तरीका है भरपूर नींद

नींद की कमी आपको दिन भर थकान महसूस करवा सकती है जिससे आपके स्वास्थ्य को भी नुकसान पहुंच सकता है। कई शोध में यह पाया गाया है की जो लोग पर्याप्त नींद नहीं लेते हैं उनमें मोटापा, उच्च रक्तचाप, दिल का दौरा, मधुमेह और अवसाद का खतरा अधिक होता है। इसलिए यह माना जाता है की अधिकांश वयस्कों को प्रत्येक रात सात से नौ घंटे की नींद लेनी ही चाहिए। अगर आप रात में एक स्वस्थ और भरपूर नींद लेते है तो सुबह आप तरोताजा महसूस करेंगे जिससे आपको हार्ट अटैक आने की संभावना कम हो जाएगी और जिसके जोखिम से आप आसानी से बच पायेंगे।

दिल के दौरे का खतरा कम करने का उपाय स्ट्रेस कम करें

ऐसा देखा गया है की कुछ लोगों को जब तनाव होता है तो वह अस्वास्थ्यकर तरीकों से तनाव का सामना करते हैं जैसे कि अधिक भोजन करना (overeating), शराब पीना (drinking) या धूम्रपान करना (smoking)। इसलिए तनाव को कम करने के वैकल्पिक तरीके जैसे कि शारीरिक गतिविधि, विश्राम अभ्यास (relaxation exercises) या मैडिटेशन करके आप अपने स्वास्थ्य को बेहतर बनाने में मदद कर सकते हैं। जिससे हृदय रोग का खतरा कम किया जा सकता है। इन सभी उपायों से आप हार्ट अटैक के जोखिम को आसानी से कम कर सकते है और एक स्वस्थ जीवन जी सकते है।