Home मेंस हेल्थ टिप्स कमर दर्द के उपचार क्या है?

कमर दर्द के उपचार क्या है?

34
What-is-lower-back-pain-in-Hindi

कमर दर्द का निदान

अधिकांश डॉक्टर कमर दर्द के कारणों का निर्धारण करने के लिए एक शारीरिक परीक्षण कर सकते हैं। शारीरिक परीक्षण के तहत दर्द महसूस होने के स्थान और दर्द की तीव्रता को निर्धारित किया जा सकता है। कमर दर्द की सामान्य स्थिति में डॉक्टर निदान के लिए कुछ हफ्तों तक प्रतीक्षा कर सकते हैं। अगर घर पर कुछ हप्तों के इलाज के बाद भी कमर दर्द दूर नहीं होता है, तो कमर दर्द की आंतरिक स्थितियों का निदान करने के लिए डॉक्टर अनेक प्रकार के परीक्षणों की सिफारिश कर सकते है। हड्डी की समस्याओं, डिस्क से सम्बंधित समस्याओं, या पीठ में स्नायुबंधन (ligaments) और टेंडन (tendons) से संबंधित समस्याओं की जांच करने के लिए डॉक्टर इमेजिंग परीक्षण की सहायता लेते हैं। इमेजिंग परीक्षण के तहत डॉक्टर, मरीज को निम्न में से किसी एक या एक से अधिक परीक्षण कराने की सिफारिश कर सकते हैं, जैसे:
• एक्स-रे परीक्षण
• सीटी स्कैन
• अल्ट्रासाउंड
• एमआरआई
इन सभी परीक्षणों के अतिरिक्त निम्न परीक्षण भी कमर दर्द की समस्या का निदान करने के लिए आवश्यक हो सकते हैं, जैसे:
• एक बोन स्कैन टेस्ट या बोन डेंसिटी टेस्ट (bone density test)
• इलेक्ट्रोमोग्राफी (Electromyography) (ईएमजी) या तंत्रिका चालन परीक्षण (nerve conduction tests)
• रक्त परीक्षण – संक्रमण या अन्य स्थितियों का निर्धारण करने के लिए आवश्यक।

कमर दर्द का इलाज

This image has an empty alt attribute; its file name is lower-back-pain-diagnosis-in-Hindi.jpgअधिकांश स्थितियों में कमर का दर्द, घरेलू उपचार के तहत कुछ हफ्तों में ठीक हो जाता है। लेकिन कुछ स्थितियों में कमर दर्द के कारणों के आधार पर विशेष उपचार की आवश्यकता होती है। सामान्य स्थिति जैसे कमर में मोच, चोट और तनाव आदि का इलाज करने के लिए डॉक्टर द्वारा मरीज को घर पर आराम करने, आइस पैक लगाने और ओवर-द-काउंटर (ओटीसी) एंटी इंफ्लेमेटरी दवाओं जैसे इबुप्रोफेन और नेप्रोक्सेन (naproxen) आदि का सेवन करने की सिफारिश की जा सकती है। इसके अतिरिक्त मरीज द्वारा अपनी सामान्य गतिविधियों को भी जारी रखा जा सकता है। यदि घरेलू उपचार कमर दर्द से राहत दिलाने में असफल रहते हैं, तो डॉक्टर अन्य उपचार प्रक्रियाओं की सिफारिश कर सकते हैं, जैसे:

कमर दर्द की दवा

कमर दर्द के कारणों के आधार पर डॉक्टर निम्न दवाओं की सिफारिश कर सकता है, जैसे:
• ओवर-द-काउंटर दर्द निवारक – ओवर-द-काउंटर या नॉनस्टेरॉइडल एंटी-इंफ्लेमेटरी ड्रग्स, जैसे कि इबुप्रोफेन या नेप्रोक्सेन आदि तीव्र कमर दर्द से राहत दिला सकती हैं। इन दवाओं की सिफारिश डॉक्टर द्वारा की जाती है। इन दवाओं के अनियमित और अत्यधिक प्रयोग के दौरान गंभीर दुष्प्रभाव उत्पन्न हो सकते हैं। अतः बिना डॉक्टर की अनुमति के दवाओं का सेवन न करें।
• सामयिक दर्द निवारक – डॉक्टर द्वारा सामयिक दर्द निवारक के रूप में क्रीम, लेप या मलहम को दर्द से प्रभावित स्थान पर लगाने की सिफारिश की जा सकती है। यह दवाएं दर्द से राहत दिलाने में आवश्यक होती हैं।
• नारकोटिक्स ड्रग्स (Narcotic Drugs) – ओपिओइड युक्त नारकोटिक्स ड्रग्स, जैसे कि ऑक्सीकोडोन (oxycodone) या हाइड्रोकोडोन (hydrocodone), का उपयोग डॉक्टर द्वारा मरीज की देख-भाल के दौरान थोड़े समय के लिए किया जा सकता है। क्योंकि पुराने दर्द के लिए नारकोटिक्स ड्रग्स अच्छी तरह प्रभावी नहीं होते हैं, इसलिए उपचार के दौरान एक सप्ताह से भी कम समय के लिए नारकोटिक्स ड्रग्स के सेवन की सिफारिश की जाती है।
• इंजेक्शन – यदि अन्य दवाएं दर्द से राहत दिलाने में असफल होती हैं, तो डॉक्टर कॉर्टिसोन स्टेरॉयड हार्मोन, एंटी-इंफ्लेमेटरी दवा या सुन्न करने वाली दवा को रीढ़ की हड्डी (epidural space) के आसपास के स्थान में इंजेक्ट कराने की सिफारिश कर सकता है। यह इंजेक्शन तंत्रिका के आसपास की सूजन को कम करने में और दर्द से राहत दिलाने में मदद करते हैं।
• एंटीबायोटिक – संक्रमण की स्थिति में डॉक्टर इलाज प्रक्रियाओं के दौरान एंटीबायोटिक या एंटिफंगल दवाओं को शामिल कर सकता है।

कमर दर्द के लिए सर्जरीThis image has an empty alt attribute; its file name is lower-back-pain-diagnosis-in-Hindi.jpg

डॉक्टर द्वारा कमर दर्द से पीड़ित व्यक्ति में गंभीर संक्रमण, काउडा एक्विना सिंड्रोम (Cauda equina syndrome) या गंभीर चोट की स्थिति का इलाज करने के लिए, सर्जरी की सिफारिश की जा सकती है। अतः कमर दर्द के प्रभाव से पैर की नसों में दर्द या तंत्रिका संपीड़न के कारण मांसपेशियों की कमजोरी की स्थिति में सर्जरी द्वारा लाभ प्राप्त किया जा सकता है। इसके अतिरिक्त रीढ़ की हड्डी के संकुचित होने (स्पाइनल स्टेनोसिस) या हर्नियेटेड डिस्क, की स्थिति में भी सर्जरी फायदेमंद हो सकती है। कमर दर्द की उपचार प्रक्रिया में निम्न तरह की सर्जिकल प्रक्रियाओं को अपनाया जा सकता है, जैसे:
• फोरामिनोटॉमी (foraminotomy)
• डिस्केक्टॉमी (discectomy)
• स्पाइनल फ्यूजन (Spinal fusion)
• स्पाइनल लैमिनेक्टॉमी (spinal laminectomy)
न्यूक्लियोप्लास्टी (nucleoplasty) – न्यूक्लियोप्लास्टी (nucleoplasty) में एक छड़ी जैसी डिवाइस को छोटे कैथेटर के माध्यम से डिस्क में डाला जाता है, रेडियो तरंगों के माध्यम से डिस्क के क्षतिग्रस्त हिस्से को हटा दिया जाता है। यह डिवाइस असामान्य ऊतक को गर्म कर सिकुड़ने के लिए भी उपयोग में लायी जाती है। इंट्राडिस्कल इलेक्ट्रोथर्मल थेरेपी (Intradiscal electrothermal therapy) – इंट्राडिस्कल इलेक्ट्रोथर्मल थेरेपी के तहत एक कैथेटर के माध्यम से सुई को डिस्क (disc) में डाला जाता है और सुई को लगभग 20 मिनट तक गर्म किया जाता है। यह थेरेपी डिस्क की दीवार को मोटा बनाती है और कमर दर्द से राहत प्रदान करती है।

कमर दर्द की रोकथाम

सामान्यतः कमर दर्द से बचाव के अनेक तरीके मौजूद हैं, जिनमें शामिल हैं:
• मांसपेशियों को मजबूत बनाने के लिए नियमित व्यायाम करें
• संतुलित वजन बनाये रखने के लिए उत्तम प्रयास करें
• आरामदायक या सुविधाजनक कुर्सियों पर बैठें
• कमर दर्द से छुटकारा पाने के लिए दृढ़ और समतल सतह पर सोना चाहिए
• जो व्यक्तियों अधिक वजन या मोटापे से ग्रस्त है, तो उन्हें भारी सामान उठाते समय सावधानी वर्तनी चाहिए। सामान उठाते समय घुटनों पर झुकें और पैरों का संतुलन बनाये रखें
• ऊँची एड़ी के जूते न पहनें
• धूम्रपान न करें, क्योंकि निकोटीन स्पाइनल डिस्क (spinal discs) के क्षतिग्रस्त होने और रक्त प्रवाह में कमी का कारण बनता है।

कमर दर्द का घरेलू इलाज

कमर दर्द से राहत प्राप्त करने और तथा लक्षणों की गंभीरता को कम करने में मदद करने के लिए कुछ उपाय अपनाए जा सकते हैं। कमर दर्द के उपाय में निम्न को शामिल किया जा सकता है, जैसे:
• कमर दर्द की स्थिति में पर्याप्त आराम प्राप्त करें,
• चोट के इलाज के लिए ठंडी या गर्म सिकाई करें, दर्द उत्पन्न होने के लगभग 24 से 48 घंटों तके दौरान बर्फ से सिकाई की जानी चाहिए, दर्द को 48 घंटे बीत जाने के बाद गर्म सिकाई को अपनाया जा सकता है
• दर्द प्रभावित क्षेत्र की बर्फ पैक से सिकाई करें
• कमर दर्द की स्थिति में धीरे-धीरे चलें तथा कम प्रभाव वाली गतिविधियों को अपनाएं
• कमर दर्द से राहत प्राप्त करने के लिए गर्म जल से स्नान करें या कमर की हल्के से मालिश कराएँ
• कमर दर्द को बढ़ाने वाली गतिविधियों पर रोक लगायें
• पीठ के बल झुकने में अधिक असुविधा महसूस होने पर अपने घुटनों के बल झुकें
• स्ट्रेचिंग व्यायाम को सावधानी पूर्वक अपनाएँ
• स्वस्थ वजन और हड्डियों को मजबूत बनाने के लिए एक स्वस्थ आहार का चयन करें। कैल्शियम, फास्फोरस और विटामिन डी में उच्च खाद्य पदार्थों के सेवन पर विशेष ध्यान दें
• ओवर-द-काउंटर (ओटीसी) एंटी इंफ्लेमेटरी दवाओं जैसे इबुप्रोफेन और नेप्रोक्सेन (naproxen) का उपयोग कमर की मोच, चोटों और तनाव को कम करने के लिए किया जा सकता है
• गंभीर दर्द की स्थिति में या 1 सप्ताह से अधिक समय तक दर्द से राहत न मिलने पर चिकित्सकीय सहायता प्राप्त करने के लिए डॉक्टर से संपर्क करें।